बरमूडा त्रिकोण एक भारी बाला



बरमुडा त्रिकोण आखिर है क्या आइये इसके बारे में और इसके इतिहास के बारे में जानते है |
बरमुडा त्रिकोण उत्तरी  अटलांटिक सागर के पच्शिमी भाग में स्तिथ है |
हांलाकि बरमुडा त्रिकोण किसी मैप पर उपस्थित नहीं है पर बरमुडा त्रिकोण अस्तित्व में है और दर्ज़नो जहाजो को अपने अन्दर समां चूका है |
जहाजो के गायब होने का कोई भी सही कारण आज तक पता नहीं चल पाया है | बरमुडा त्रिकोण का नाम सबसे पहले एक मैगजीन ने 1964 में उजागर किया था | 

बरमुडा त्रिकोण मे कई सरे हादसे हो चुके है| इनकी शुरुआत १४९२ में हुई जब क्रिस्टोफर कोलंबस इसके ऊपर से गुजर रहे थे |
पहले विश्व युध के दौरान भी कई जहाज गायब हुए थे, अमेरिकी नेवी जहाज भी गायब हुआ था | 
इन सब के पीछे कई लोग अपने अपने सुझाव देते है |


कोई कहता है की वहा की गुरुत्वाकर्षण शक्ति बहुत ज्यादा है जिसके कारण ऐसा होता है | कुछ कहते है की वहा मीथेन गैस के बड़े गोलों के करना होता है | 

आज तक बरमुडा त्रिकोण के बारे में कोई भी सही कारण नहीं दे पाया है |

5 comments:

  1. बड़ी नई और रोचक जानकारी.... धन्यवाद ..

    ReplyDelete
  2. जानकारी देने वाली पोस्ट....

    ReplyDelete
  3. मुझे लगता है बरमूडा त्रंगले के रहस्य का Gulf Stream currents ये भी एक कारण हो सकता है .... खोज जरी है विद्यान सच बता ही देगा

    ReplyDelete
  4. क्या आप हमारीवाणी के सदस्य हैं? हमारीवाणी भारतीय ब्लॉग्स का संकलक है.


    अधिक जानकारी के लिए पढ़ें:
    हमारीवाणी पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि

    हमारीवाणी पर ब्लॉग प्रकाशित करने के लिए क्लिक कोड लगाएँ

    ReplyDelete
  5. बहुत जरूरी आलेख शुक्रिया

    ReplyDelete

हम आपकी प्रतिक्रियाओं का इंतज़ार करेंगे

 

दुनिया मेरी नज़र से Copyright © 2012 |